Home न्यूज़ ओडिशा सरकार की आशा कार्यकर्ताओं को वित्तीय मदद की घोषणा

ओडिशा सरकार की आशा कार्यकर्ताओं को वित्तीय मदद की घोषणा

भुवनेश्वर : ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने शुक्रवार को राज्य की आशा कार्यकर्ताओं के लिए एक बार के मानदेय को बढ़ाकर 20,000 रुपये व वित्तीय मदद 10,000 रुपये करने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने आशा कार्यकर्ताओं के लिए एक बार की सहायता के तौर पर छाता, साइकिल, आलमारी व रिचार्जेबल टार्च खरीदने के लिए 10,000 रुपये देने की भी घोषणा की।

इस फैसले से 47,000 से ज्यादा आशा कार्यकर्ताओं को फायदा होगा, जो ओडिशा के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में सेवाएं दे रही हैं।

सरकार ने आशा अभ्याती योजना के तहत दिए जाने वाले एक बार के मानदेय 10,000 रुपये को बढ़ाकर 20,000 रुपये कर दिया।

अधिकारी ने कहा कि आशा कार्यकर्ताओं को मानदेय की राशि स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (वीआरएस) के तहत 10 साल की सेवा पूरी करने या 62 साल की आयु में सेवानिवृत्त होने के बाद मिलेगी।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के ओडिशा मिशन की निदेशक शालिनी पंडित ने कहा, 47,000 से ज्यादा आशा कार्यकर्ता ओडिशा भर में हर मौसम के दौरान सेवाएं प्रदान करती हैं। उनकी समर्पित सेवा का एहसास करते हुए मुख्यमंत्री ने हर आशा को कई तरह की सुविधाओं की घोषणा की है, जिसमें स्टील की आलमारी, लेडीज साइकिल, चप्पल, छाता और रिचार्जेबल टार्च मुहैया कराना शामिल है। इसके लिए हर किसी को 10,000 रुपये का अनुदान दिया जाएगा, जो सीधे उनके बैंक खातों में भेजा जाएगा।

आशा कार्यकर्ताओं को इस साल एक अप्रैल से 2000 रुपये का मासिक सशर्त पारिश्रमिक दिया जा रहा है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here