Home न्यूज़ डेटा चोरी : भाजपा पर झूठ बोलने का कांग्रेस का आरोप

डेटा चोरी : भाजपा पर झूठ बोलने का कांग्रेस का आरोप

SHARE

नई दिल्ली : कांग्रेस ने बुधवार को एक राजनीतिक डेटा विश्लेषक कंपनी से संबंध होने से इंकार किया और भारतीय जनता पार्टी पर वर्ष 2010 में इस कंपनी से सेवा लेने का आरोप लगाया। राजनीतिक डेटा विश्लेषक कंपनी कैंब्रिज एनलिटिका(सीए) पर चुनावी प्रक्रिया को प्रभावित करने के लिए कथित रूप से डेटा चोरी करने का आरोप है।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, कांग्रेस और इसके अध्यक्ष ने कभी भी कैंब्रिज एनलिटिका(सीए) का की सेवा नहीं ली है।

इससे पहले कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पर आरोप लगाया था कि पार्टी ने 2019 चुनाव अभियान के लिए इस कंपनी की मदद लेकर राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता किया है।

उन्होंने कहा, यह फर्जी एजेंडा है और कानून मंत्री फर्जी तथ्यों के आधार पर सफेद झूठ फैला रहे हैं।

सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि भाजपा और उसकी सहयोगी जनता दल (यूनाइटेड) ने वर्ष 2010 में कैंब्रिज एनलिटिका की सेवा ली थी।

सुरजेवाला ने कहा, मुझे लगता है कि भाजपा और रविशंकर प्रसाद को कैंब्रिज एनलिटिका का काफी अनुभव है, जिसके बारे में वह कह रहे हैं कि कंपनी डेटा चोरी में संलिप्त है।

उन्होंने कंपनी की वेबसाइट का हवाला देते हुए कहा कि इसका इस्तेमाल वर्ष 2010 के बिहार विधानसभा चुनाव में पूरी चुनावी प्रक्रिया के लिए किया गया था।

कांग्रेस नेता ने कहा, अगर कंपनी ने चारी की है, तो क्यों भाजपा व जद (यू) ने इसकी सेवा ली। अपने झूठ के पुलिंदे में, वह सच बोलना भूल गए।

उन्होंने भाजपा पर फर्जी न्यूज के सहारे लोगों का ध्यान जरूरी मुद्दों से भटकाने का आरोप लगाया।

सुरजेवाला ने कहा, भाजपा की फर्जी न्यूज की फैक्ट्री ने लोगों का ध्यान भटकाने के लिए आज एक और फर्जी न्यूज का उत्पादन किया है। जब देश इराक में मारे गए 39 भारतीयों के बारे में पूछ रहा है, तो वे लोग दलित व आदिवासी के मुद्दे से ध्यान भटकाने, राहुलजी के कर्नाटक दौरे से ध्यान भटकाने के लिए, एक और नए झूठ के साथ सामने आ गए।

भाजपा ने आरोप लगाया है कि यह कंपनी डेटा चोरी में संलिप्त है और चेतावनी दी कि चुनावी प्रक्रिया को प्रभावित करने के किसी भी प्रयास को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here