Home देश मध्याह्न् भोजन खाकर 26 विद्यार्थी बीमार, सिसोदिया सख्त

मध्याह्न् भोजन खाकर 26 विद्यार्थी बीमार, सिसोदिया सख्त

SHARE

नई दिल्ली :दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को मध्याह्न् भोजन खाने से 26 छात्रों के बीमार होने के कुछ घंटे बाद शहर के सभी मध्याह्न् भोजन रसोईघरों के निरीक्षण के आदेश दिए। उपमुख्यमंत्री ने ठेका समाप्त करने से लेकर अधिकारियों को निलंबित करने की कड़ी चेतावनी भी दी।

सिसोदिया ने कहा, यह गंभीर मामला है। अधिकारियों को अगले सप्ताह तक सभी रसोईघरों का निरीक्षण करने और किसी भी तरह की अनियमितता पर कड़ी कार्रवाई करने के लिए कहा गया है। सभी साझेदारों को मिलकर अपना काम करना होगा, नहीं तो उन्हें निलंबन का सामना करना पड़ सकता है।

उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग गुरुवार को मध्याह्न् भोजन योजना से जुड़े लोगों के साथ बैठक आयोजित करेगा।

पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, उत्तरी दिल्ली के नरेला क्षेत्र के एक विद्यालय में छठी से आठवीं कक्षा के बच्चे मध्याह्न् भोजन खाने के बाद अस्वस्थ महसूस करने लगे और उन्हें सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र अस्पताल में भर्ती कराया गया। शुरुआती लक्षण के तौर पर इन बच्चों ने पेट दर्द, सिर चकराने और उल्टी की शिकायत की।

समाज कल्याण मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने बीमार विद्यार्थियों का हाल-चाल जानने के लिए अस्पताल का दौरा किया। उन्होंने कहा कि सभी बच्चों की हालत में सुधार हो रहा है।

उन्होंने कहा, बच्चों ने दर्द और सांस लेने में तकलीफ की शिकायत की थी।

गौतम ने कहा, हम विद्यार्थियों के स्वास्थ्य को लेकर कोई भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं करेंगे। हम आपूर्तिकर्ता के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगे। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि लगातार चेतवानी के बाद भी ऐसी घटनाएं हो रही हैं।

पिछले हफ्ते, दिल्ली नगर निगम द्वारा संचालित एक स्कूल में मध्याह्न् भोजन खाने के बाद दो छात्राओं को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। प्रधानाध्यापक की शिकायत के बाद पुलिस ने वेंडर के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here