Home न्यूज़ सरकार का जोर शिक्षा, रोजगार, स्वास्थ्य सुविधाओं पर : मोदी

सरकार का जोर शिक्षा, रोजगार, स्वास्थ्य सुविधाओं पर : मोदी

SHARE

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसदों और विधायकों द्वारा जमीनी स्तर पर किए जा रहे कार्यो की प्रशंसा की और कहा कि उनकी सरकार बच्चों की शिक्षा, युवाओं के लिए अवसरों और बुजुर्गो के लिए चिकित्सा पर ध्यान दे रही है।

उन्होंने पार्टी के सभी विधायकों से गांवों के लिए कम से कम एक विकास कार्य को अपने हाथ में लेने को कहा, जो गांवों को आगे बढ़ने में मदद करेगा। साथ ही उन्होंने स्वच्छता अभियान पर ध्यान केंद्रित करते हुए महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर सुझावों को भी आमंत्रित किया।

प्रधानमंत्री ने नरेंद्र मोदी मोबाइल एप के माध्यम से भाजपा सांसदों और विधायकों से बातचीत के दौरान कहा, लोगों के साथ आपका सीधा संबंध एक सकारात्मक बदलाव लाया है, जो यह सुनिश्चित करता है कि योजनाएं जमीनी स्तर तक पहुंची हैं और साथ ही लोगों की चिंताएं भी सांसदों तक पहुंची हैं। भाजपा नेताओं को लोगों के कल्याण के लिए समाज में किए जा रहे प्रत्येक कार्य में शामिल होना चाहिए।

गांवों में लोगों की जिंदगियों को बेहतर बनाने के सवाल पर प्रधानमंत्री ने गांवों में रहने वालों की सामूहिक शक्ति पर जोर दिया।

उन्होंने कहा, गांवों के विकास का कार्य केवल बजट या फिर सरकार का नहीं है..लोगों को उनके अधिकारों और कर्तव्यों को लेकर जागरूक होने की जरूरत है। किसी भी गांव की सबसे बड़ी ताकत है उसकी एकता।

उन्होंने सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे के गांव का भी जिक्र किया, जहां उन्होंने स्वच्छता पर जोर दिया था और कैसे अब वह गांव दूसरे गांवों के लिए आदर्श बन गया है, जिसका उन्हें पालन करना चाहिए।

मुद्रा योजना के बारे में उन्होंने कहा कि 11 करोड़ लोग पहले ही योजना का लाभ उठा चुके हैं।

उन्होंने कहा, स्वयं सहायता समूह में महिलाएं विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार के नए अवसरों के साथ आ रही हैं।

ग्राम स्वराज अभियान के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं की प्रशंसा करते हुए प्रधानमंत्री ने पार्टी कार्यकर्ताओं से मुद्रा योजना, उज्जवला योजना और बीमा योजनाओं के फायदों को जमीनी स्तर तक पहुंचाने का आग्रह किया। ग्राम स्वराज अभियान 14 अप्रैल से पांच मई तक चलेगा।

उन्होंने पार्टी नेताओं से नियमित ग्रामसभा, सोशल मीडिया पहुंच को बेहतर बनाने, भीम एप के इस्तेमाल को प्रोत्साहित करने और कैशलैस लेनदेन के आंदोलन को आगे ले जाने का आग्रह किया।

एक घंटे तक चली बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री ने हाल ही में शुरू की गई आयुष्मान भारत योजना पर अपने विचार साझा किए।

उन्होंने कहा, सरकार गांवों के लिए कल्याण केंद्रों की स्थापना करना चाहती है, ताकि लोग अच्छी स्वास्थ्य सुविधाएं प्राप्त कर सकें। सरकार बच्चों की शिक्षा, युवाओं के लिए अवसरों और बुजुर्गो के लिए चिकित्सा पर ध्यान केंद्रित कर रही है।

झारखंड में नगर परिषद, नगर पंचायत और नगर निगम चुनावों में भाजपा की हालिया जीत का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह जीत दिखाती है कि लोगों का विश्वास भाजपा की विकास की राजनीति में है।

बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री ने विभिन्न मुद्दों पर देश भर में पार्टी के निर्वाचित प्रतिनिधियों के सवालों के जवाब भी दिए। इन मुद्दों में युवाओं को कौशल सिखाना, ग्रामीण विकास और किसान कल्याण शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here