Home राज्य तमिल नाडु उपवास रखते हुए मोदी चेन्नई में करेंगे रक्षा प्रदर्शनी का उद्घाटन

उपवास रखते हुए मोदी चेन्नई में करेंगे रक्षा प्रदर्शनी का उद्घाटन

चेन्नई :प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को संसद के काम-काज में बाधा डालने के विरोध में उपवास रखने के बावजूद चेन्नई शहर के पास रक्षा प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे। यह जानकारी बुधवार को रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने दी।

कावेरी जल विवाद को को लेकर चेन्नई में केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं।

सीतारमण ने यहां पत्रकारों को बताया कि हाल ही में समाप्त हुए बजट सत्र के दौरान विपक्ष द्वारा संसद की कार्रवाई में बाधा पहुंचाने के विरोध में आहूत उपवास में वह भी हिस्सा लेंगी।

उन्होंने कहा, मैं भी उपवास रखूंगी। प्रधानमंत्री मोदी भी उपवास रखेंगे, मगर उपवास के कारण वह यहां आने से नहीं रुकेंगे।

उन्होंने यहां रक्षा प्रदर्शनी 2018 की शुरुआत के बाद यह बात कही। इस प्रदर्शनी में भारत की हथियार विनिर्माण क्षमता को दर्शाया गया है।

प्रदर्शनी की थीम इमर्जिग डिफेंस मैन्युफैक्च रिंग हब अर्थात उभरता हुआ रक्षा विनिर्माण केंद्र है, जोकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया का प्रमुख पहलू है।

रक्षा प्रदर्शनी का आयोजन तमिलानाडु में कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन की मांग को लेकर उग्र प्रदर्शनों के बीच हो रहा है। प्रदेश में केंद्र सरकार के खिलाफ लोगों में इस बात को लेकर नाराजगी है कि उसने कावेरी जल विवाद मामले में सर्वोच्च न्यायालय के दिशा-निर्देशों का पालन नहीं किया।

विपक्षी दल द्रमुक ने लोगों को मोदी के प्रदेश के दौरे के समय काली कमीज और साड़ी पहनकर विरोध जताने को कहा है।

मोदी यहां रक्षा प्रदर्शनी के 10वें संस्करण का विधिवत उद्घाटन करने आ रहे हैं।

चेन्नई शहर में मंगलवार की शाम में एक हंगामा खड़ा हो गया जब प्रदर्शनकारी सड़क पर बैठ गए और चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच एम. ए. चिदंबरम स्टेडियम में होने वाले मैच में बाधा डालने की कोशिश की।

शीर्ष अदालत ने 16 फरवरी को एक आदेश में केंद्र को तमिलनाडु, कर्नाटक और केरल के बीच जल बटवारे को लेकर 29 मार्च तक एक योजना तैयार करने का निर्देश दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here