Home राज्य चंडीगढ़ इनेलो कार्यकर्ताओं ने हरियाणा-पंजाब सीमा से लगी सड़कें जाम की

इनेलो कार्यकर्ताओं ने हरियाणा-पंजाब सीमा से लगी सड़कें जाम की

चंडीगढ़| हरियाणा में अधिक पानी लाने के लिए पंजाब में सतलज-यमुना लिंक (नहर) के तत्काल निर्माण की मांग को लेकर इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के कार्यकर्ताओं ने सोमवार को हरियाणा में अंबाला के नजदीक राष्ट्रीय राजमार्ग तथा चार अन्य सड़कों को जाम कर दिया। इनेलो के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने अपने एकदिवसीय ‘रोड रोको आंदोलन’ के तहत यहां से करीब 45 किलोमीटर दूर अंबाला के नजदीक एनएच-1 को जाम कर दिया।

प्रदर्शनकारियों ने शंभू नाके पर अमृतसर और दिल्ली को जोड़ने वाले व्यस्त राजमार्ग को भी जाम कर दिया और पंजाब से वाहनों को हरियाणा में दाखिल नहीं होने दिया।

हरियाणा के सिरसा जिले में दाबवली कस्बे के पास भी वाहनों का आवागमन रोक दिया गया।

इनेलो हरियाणा को ज्यादा जलापूर्ति के लिए पंजाब में सतलज-यमुना लिंग नहर के तत्काल निर्माण की मांग कर रहा है। 

इनेलो के प्रदर्शन को देखते हुए केंद्रीय सुरक्षा बल और हरियाणा पुलिस के सैकड़ों सुरक्षा कमियों को राज्य की सीमा से सटे पांच प्रमुख स्थानों पर तैनात किया गया है।

हरियाणा के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सोमवार सुबह से ही उन स्थानों पर तैनात हैं, जहां प्रदर्शन हो रहे हैं।

हरियाणा पुलसि के अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजीपी) आर. सी मिश्रा ने शंभू नाके पर कहा, “हम किसी भी स्थिति के लिए तैयार हैं। हम परिस्थिति के आधार पर कार्रवाई करेंगे।”

वाहनों को राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-1 पर लालरु-चंडीगढ़ खंड, एनएच-1 पर अंबाला शम्भू सीमा, नरवाना-धानौरी सीमा, फतेहाबाद जिले में रतिया-बुढाल्दा रोड (जाखल मोड़) और सिरसा जिले के दाबवली में रोका जा रहा है।

इनेलो के नेताओं का कहना है कि आपातकालीन वाहनों, जैसे एंबुलेंस आदि की आवाजाही को विरोध-प्रदर्शन से अलग रखा गया है।

इनेलो महासचिव अभय सिंह चौटाला हेलीकॉप्टर से सभी पांच जगहों पर जाएंगे, जहां प्रदर्शन हो रहे हैं।

उधर, पंजाब में प्रशासन ने सार्वजनिक सेवा की बसों को एहतियातन सोमवार को हरियाणा नहीं भेजने का फैसला किया है।

इससे पहले चौटाला ने कहा था, “पंजाब के लोगों के प्रति सद्भावना दर्शाने के लिए हमारे कार्यकर्ताओं ने फूलों की व्यवस्था की है, जो पंजाब से आने वाले यात्रियों को दिया जाएगा।”

उन्होंने कहा, “इनेलो के कार्यकर्ता आने वाले लोगों से पंजाब सरकार पर यह दबाव बनाने की अपील भी करेंगे कि एसवाइएल नहर का निर्माण जल्द पूरा करवाया जाए।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here