Home न्यूज़ महाराष्ट्र उपचुनाव : भंडारा-गोंदिया में 35 मतदाता केंद्रों पर चुनाव रद्द

महाराष्ट्र उपचुनाव : भंडारा-गोंदिया में 35 मतदाता केंद्रों पर चुनाव रद्द

SHARE

मुंबई : वीवीपीएटी- इलेक्ट्रॉनिक वोटिग मशीन (ईवीएम) में गड़बड़ी की शिकायत मिलने के बाद महाराष्ट्र में सोमवार को भंडारा-गोंदिया लोकसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव में 35 मतदाता केंद्रों में मतदान स्थगित कर दिया गया है।

भंडारा-गोंदिया में निर्वाचन आयोग के अधिकारी अनंत वालास्कर ने पत्रकारों को बताया कि पालघर और भंडारा-गोंदिया लोकसभा क्षेत्रों में सुबह 7 बजे मतदान शुरू होने के बाद पांच घंटे के भीतर ही 64 मतदाता केंद्रों से ईवीएम-वीवीपीएट में गड़बड़ी होने की शिकायत मिली।

उन्होंने कहा, निर्वाचन आयोग ने कुछ ईवीएम-वीवीपीएटी की मरम्मत कर दी और कुछ स्थानों पर अतिरिक्त मशीन मुहैया कराई गई, लेकिन कम से कम 35 मतदाता केंद्रों पर किसी अन्य दिन चुनाव कराए जाएंगे।

अधिकारी ने पूरे लोकसभा क्षेत्र में चुनाव रद्द होने की अफवाह का खंडन किया और कहा कि अन्य क्षेत्रों में मतदान सामान्य रूप से हो रहा है।

भंडारा-गोंदिया के खापा, मंधाल, हिंगना, खरबी और पालघर के तारापुर, शेलवली, कामारे, सतपती, मैकहोप, धुकतन, चिनचान और अन्य मतदाता केंद्रों पर ईवीएम-वीवीपीएट में गड़बड़ी की शिकायत सामने आई है।

निर्वाचन अधिकारियों के मुताबिक, मशीनें बदलने की कवायद शुरू कर दी गई है और इस बीच सैकड़ों मतदाताओं को मतदान करने के लिए कड़ी धूप में इंतजार करना पड़ रहा है।

दोनों निर्वाचन क्षेत्रों में 140 से अधिक वीवीपीएटी-ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी की शिकायतें आई हैं।

भारिप बहुजन महासंघ(बीबीएम) के अध्यक्ष प्रकाश अंबेडकर ने कड़ी आपत्ति जताते हुए भंडारा-गोंदिया में चुनाव रद्द करने की मांग की है।

बी. आर. अंबेडकर के पोते प्रकाश अंबेडकर ने कहा, मुझे लगभग 450 मतदाता केंद्रों से गड़बड़ी की शिकायत मिली है। यह स्पष्ट है कि भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) चुनाव हार रही है, इसलिए ईवीएम-वीवीपीएटी में छेड़छाड़ की गई है। पूरे चुनाव को निश्चित ही रद्द कर देना चाहिए और फिर से चुनाव करवाना चाहिए।

दोनों लोकसभा सीटों पर उपचुनाव सुबह सात बजे शुरू होने के बाद से लगभग 15 फीसदी ही मतदान हुआ है। गर्मी की वजह से दोपहर के समय में लोगों के घर के भीतर ही रहने की संभावना है, जिससे मतदान प्रक्रिया धीमी रहने का अनुमान है।

किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए दोनों लोकसभा क्षेत्रों में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here