Home राज्य छत्तीसगढ़ नक्सलवाद से भी बड़ी चुनौती कुपोषण : रमन सिंह

नक्सलवाद से भी बड़ी चुनौती कुपोषण : रमन सिंह

SHARE

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने शुक्रवार को नवीन विश्राम गृह में आयोजित मुख्यमंत्री सुपोषण मिशन समारोह में कहा कि ‘ढाई करोड़ छत्तीसगढ़ियों के लिए नक्सलवाद से भी बड़ी चुनौती है कुपोषण। हम ये दोनों ही लड़ाइयां जीतेंगे।’ 

उन्होंने आगे कहा कि राज्य निर्माण के समय छत्तीसगढ़ में कुपोषण की दर लगभग 70 प्रतिशत थी। वर्ष 2012 में वजन त्योहार शुरू होने के पांच वर्ष के भीतर कुपोषण का स्तर 40.05 प्रतिशत से घटकर वर्ष 2016 में 30.13 प्रतिशत रह गया है। आने वाले तीन वर्षों में हम इसको केरल के बराबर ले जाएंगे। वहां कुपोषण का स्तर 12 फीसदी ही रह गया है।

समारोह में डॉ. रमन सिंह ने मिशन से संबंधित गतिविधियों और योजनाओं की पुस्तिका का विमोचन भी किया। उन्होंने इस अवसर पर न्यूट्रीलिक ऑनलाइन पोषण सलाह केंद्र और न्यूट्रीचेक मोबाइल एप का भी शुभारंभ किया। न्यूट्रीलिक ऑनलाइन पोषण सलाह केंद्र की स्थापना विश्व बैंक की सहायता से इस्निप परियोजना के तहत की गई है।

समारोह की अध्यक्षता महिला एवं बाल विकास मंत्री रमशीला साहू ने की। संसदीय सचिव रूपकुमारी चौधरी विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थीं। मुख्य सचिव विवेक ढांड, अपर मुख्य सचिव अजय सिंह और महिला एवं बाल विकास विभाग की सचिव डॉ. एम. गीता सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी कार्यक्रम में मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here