Home न्यूज़ पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र की हत्या कर रहीं ममता : भाजपा

पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र की हत्या कर रहीं ममता : भाजपा

Rajpath Desk : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने गुरुवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सुप्रीमो ममता बनर्जी पर राज्य में लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगाया।

पश्चिम बंगाल के भाजपा नेताओं ने यहां संवाददाताओंको संबोधित करते हुए कहा कि राज्य में मानवता के खिलाफ जारी अपराधों के बारे में सूचना देने के लिए वे केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से भी मुलाकात करेंगे।

केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने केंद्रीय मंत्री एस.एस. अहलुवालिया और राज्यसभा सासंद रूपा गांगुली व स्वपन दास गुप्ता के साथ एक संयुक्त प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा, पश्चिम बंगाल में मानवता के खिलाफ अपराध जारी हैं। चाहे दंगे हों या चुनाव से पूर्व हिंसा। लोकतंत्र की हत्या की जा रही है। ममता दी द्वारा लोकतंत्र को खत्म करने का संगठित प्रयास किया जा रहा है।

पार्टी कार्यकर्ताओं के खिलाफ कथित अत्याचारों की कुछ वीडियो क्लिप्स दिखाते हुए भाजपा नेताओं ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं को पंचायत चुनाव में नामांकन दाखिल करने से रोकने के लिए बनर्जी और टीएमसी द्वारा डर का माहौल तैयार किया जा रहा है।

सुप्रियो ने पूरे राज्य प्रशासन पर टीएमसी कार्यकर्ताओं की तरह व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए कहा, जो भी पश्चिम बंगाल में हो रहा है वह मानवता के खिलाफ है। हम राजघाट जा रहे हैं। हमने राजनाथ सिंह जी से मुलाकात के लिए भी समय की मांग की है। हम शुक्रवार को संसद भवन परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने प्रदर्शन भी करेंगे।

उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में आम आदमी विरोध और शिकायत करने का अपना मौलिक अधिकार खो चुका है। गांगुली ने कहा कि जो भाजपा कार्यकर्ता चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करना चाहते हैं, उन्हें निशाना बनाया जा रहा है और उनकी हत्या की जा रही है।

अहलुवालिया ने कहा कि बनर्जी ने टीएमसी कैडर्स को कुल सीटों में से 50 पर निर्विरोध जीत हासिल करने का निर्देश दिया है। पश्चिम बंगाल में अगामी पंचायत चुनाव मई के पहले सप्ताह में तीन चरणों के तहत होंगे। मतगणना आठ मई को होगी।

राज्य के 20 जिलों में कुल 58,467 मतदान केंद्र बनाए जाएंगे जहां 5.08 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here