Home न्यूज़ पंजाब, हरियाणा में 250 लाख टन धान की खरीद

पंजाब, हरियाणा में 250 लाख टन धान की खरीद

SHARE

चंडीगढ़। फसल वर्ष 2017-18 (जुलाई-जून) के खरीफ सीजन में पंजाब और हरियाणा में धान की बंपर पैदावार हुई, जिसके चलते दोनों राज्यों में धान की सरकारी खरीद भी रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच चुकी है।

खाद्य और आपूर्ति विभाग के अधिकारियों से सोमवार को मिली जानकारी के अनुसार सरकारी एजेंसियों ने पंजाब और हरियाणा में एक अक्टूबर से आरंभ हुए चालू खरीफ विपणन वर्ष में अब तक 250 लाख टन से अधिक धान खरीदी है।

पंजाब में लगभग 179 लाख टन धान की सरकारी खरीद हो चुकी है। जबकि हरियाणा में 71.21 लाख टन धान के आने का अनुमान है, जो अब तक का सबसे ज्यादा है।

पंजाब के अनाज बाजार में आने वाले 98.5 फीसदी धान सरकारी एजेंसियों ने खरीदा है।

हरियाणा में कुल आवक में से 59.11 लाख टन से अधिक धान सरकारी एजेंसियों ने खरीदा है जबकि 12 लाख टन से ज्यादा धान डीलरों और मिलों ने खरीदा है।

खरीफ सीजन में पंजाब में धान की खरीद के लिए भारतीय रिजर्व बैंक ने 33,800 करोड़ रुपये से अधिक की मंजूरी दी थी।

करीब 32,000 करोड़ रुपये का भुगतान किसानों और दलालों को किया गया।

हरियाणा में पिछले वर्ष इसी अवधि के दौरान लगभग 69.6 लाख टन धान की खरीद की गई थी।

हरियाणा सरकार के प्रवक्ता ने कहा, यह पहली बार हुआ है। 1966 में हरियाणा की स्थापाना के बाद से 30 नवंबर 2017 तक राज्य ने सबसे ज्यादा धान प्राप्त किया और खरीदा है। यह आंकड़े राज्य के इतिहास में इस मौसम में दर्ज किए गए किसी भी आंकड़े से ज्यादा है।

प्रवक्ता ने कहा कि पिछले साल की खरीद भी उच्चतम स्तर पर थी।

पंजाब में 168 लाख टन का रिकार्ड देखा गया।

दोनों राज्यों में यह खरीद 1 अक्टूबर को शुरू हुई। धान की सरकारी खरीद का सीजन 15 दिसंबर को खत्म होगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here