Home न्यूज़ पंजाब : मुख्यमंत्री ने सरकारी कर्मियों के डोप टेस्ट के फैसले का...

पंजाब : मुख्यमंत्री ने सरकारी कर्मियों के डोप टेस्ट के फैसले का बचाव किया

SHARE

चंडीगढ़ : पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सोमवार को सरकारी और पुलिस कर्मचारियों के डोप टेस्ट (मादक पदार्थ सेवन परीक्षण) करवाने के अपने फैसले का बचाव किया। उन्होंने कहा कि एहतियाती उपाय के तहत इस तरह के टेस्ट सेना में भी होने चाहिए।

सिंह ने होशियारपुर जिले के जहां केलान में पुलिस भर्ती प्रशिक्षण केंद्र में पासिंग आउट पैरेड के बाद मीडिया से कहा, राज्य के मौजूदा हालत में कठोर कदम उठाने की जरूरत है जहां मादक पदार्थो के आदी ड्रग्स की कमी और मंहगे दामों की वजह से कई नशीले पदार्थो के मिश्रण (कॉन्कॉकशन) का प्रयोग करने पर बाध्य हो रहे हैं।

उन्होंने कहा, ड्रग्स तस्करों और माफिया पर दबाव बढ़ाने के बाद इसकी आपूर्ति रुक गई है। इसलिए ड्रग्स के शिकार लोग (कॉन्कॉकशन) ले रहे हैं, जिसकी वजह से तत्काल मौत हो जाती है।

उन्होंने हालांकि राजनेताओं और चुने हुए प्रतिनिधियों के डोप टेस्ट के बारे में कहा कि वह इसका निर्णय उन्हीं पर छोड़ते हैं।

सरकार द्वारा पुलिसकर्मियों समेत तीन लाख से ज्यादा सरकारी कर्मचारियों के डोप टेस्ट के आदेश के बाद कुछ राजनेताओं और विधायकों/सांसदों ने पिछले हफ्ते अपना डोप टेस्ट करवाया था।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here