Home राज्य आंध्र प्रदेश तेदेपा प्रमुख ने विभिन्न दलों के नेताओं से मुलाकात की

तेदेपा प्रमुख ने विभिन्न दलों के नेताओं से मुलाकात की

तेदेपा प्रमुख ने विभिन्न दलों के नेताओं से मुलाकात कीनई दिल्ली :आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं तेलुगू देशम पार्टी प्रमुख एन. चंद्रबाबू नायडू ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से संबंध तोड़ने के बाद अपनी पहली दिल्ली यात्रा पर कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और अन्य राजनीतिक पार्टियों के नेताओं से मुलाकात कर अगले लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराने पर बात की।

नायडू ने संसद भवन के केंद्रीय कक्ष में काफी समय बिताया। उन्होंने राकांपा के शरद पवार, जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला, कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया और के.सी. वेणुगोपाल, समाजवादी पार्टी नेता रामगोपाल यादव और तृणमूल कांग्रेस नेता सुदीप बंद्योपाध्याय तथा डेरेक ओ ब्रायन से मुलाकात की।

उन्होंने नेताओं से बातचीत में आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा नहीं देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा को जिम्मेदार बताया। इसके अलावा राज्य की नई राजधानी के निर्माण, पोलावरम परियोजना और अन्य परियोजना में राजस्व की कमी के लिए भी उन्होंने मोदी और भाजपा को जिम्मेदार बताया।

मुख्यमंत्री ने बाद में संवाददाताओं से कहा कि भाजपा से उनका अलगाव अंतिम है और अब पार्टी भाजपा को आगामी चुनावों में हराने के लिए काम करेगी। फिलहाल उन्होंने अपनी पार्टी की आगे की रणनीति बताने से मना कर दिया।

नायडू ने मंगलवार को टीआरएस नेता जितेंद्र रेड्डी और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव की बेटी कविता और भाजपा की सहयोगी केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल और हरसिमरत कौर, द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) की कनिमोझी तथा अन्नाद्रमुक के वी. मैत्रेयन से भी मुलाकात की।

इस दौरान वरिष्ठ भाजपा नेता मुरली मनोहर जोशी सहित भाजपा के कई मंत्रियों ने उनका अभिवादन किया।

पिछले महीने तेदेपा ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) और केंद्र सरकार पर राज्य के बंटवारे के समय राज्य से किए वादे पूरे नहीं कर उसे धोखा देने का आरोप लगाने के बाद उससे अलग होने का फैसला किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here