Home न्यूज़ ट्रंप दक्षिण कोरिया संग सैन्य अभ्यास समाप्त करेंगे, उत्तर कोरिया पर प्रतिबंध...

ट्रंप दक्षिण कोरिया संग सैन्य अभ्यास समाप्त करेंगे, उत्तर कोरिया पर प्रतिबंध जारी

सिंगापुर : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को उत्तर कोरिया के साथ सैन्य अभ्यास समाप्त करने की घोषणा की लेकिन साथ ही कहा कि उत्तर कोरिया पर से प्रतिबंध नहीं हटेगा।

ट्रंप ने उत्तर कोरिया के शीर्ष नेता किम जोंग-उन के साथ समझौते पर हस्ताक्षर करने के बाद यह बयान दिया। समझौते के अंतर्गत दोनों नेताओं ने कोरियाई प्रायद्वीप में पूर्ण निरस्त्रीकरण की दिशा में काम करने पर प्रतिबद्धता जताई।

अमेरिकी नेता ने कहा कि वह विश्वास करते हैं कि उत्तर कोरिया के उनके समकक्ष समझौते के अनुरूप आचरण करेंगे। इस बीच प्रतिबंध प्रभावी रहेगा।

उन्होंने कहा, मैं उत्तर कोरिया पर जितना जल्दी हो सके निरस्त्रीकरण के लिए दबाव बनाऊंगा लेकिन इसमें लंबा वक्त लग सकता है। वैज्ञानिक रूप से आपको कुछ समय का इंतजार करना होता है..लेकिन जब आप प्रक्रिया आरंभ कर देते हैं तो इसका मतलब है कि यह हो रहा है।

ट्रंप ने कहा, प्रक्रिया बहुत जल्द शुरू हो जाएगी और जब हम इस बात पर निश्चिंत हो जाएंगे कि परमाणु अब मुद्दा नहीं रहा, तो हम प्रतिबंध हटा लेंगे।

उन्होंने साथ ही कहा कि वह दक्षिण कोरिया के साथ युद्धाभ्यास बंद कर देंगे। राष्ट्रपति ने इन सैन्य अभ्यासों को अत्यधिक खर्चीला भी बताया। उत्तर कोरिया इन सैन्य अभ्यासों को युद्ध की तैयारी बताता रहा है।

ट्रंप ने कहा कि वह उम्मीद करते हैं कि दक्षिण कोरिया से अमेरिकी सेना को वापस बुला लिया जाएगा, लेकिन यह अभी समीकरण का हिस्सा नहीं है।

उन्होंने कहा, मैं अपने सैनिकों को वहां से बाहर निकालना चाहता हूं। मैं अपने सैनिकों को वापस घर बुलाना चाहता हूं..लेकिन यह अभी समीकरण का हिस्सा नहीं है। मुझे उम्मीद है कि यह आखिरकार होगा।

ट्रंप ने कहा कि वह वार गेम्स (दक्षिण कोरिया के साथ सैन्य अभ्यास) रोक देंगे क्योंकि उनका मानना है कि यह बहुत भड़काने वाले होते हैं और इससे अमेरिका का बहुत ही अधिक धन बचेगा।

ट्रंप ने दक्षिण कोरिया के साथ सैन्य अभ्यास पर कहा, हमने काफी लंबे समय से यह अभ्यास किए हैं…यह अत्यधिक खर्चीले हैं। दक्षिण कोरिया योगदान देता है, लेकिन 100 प्रतिशत नहीं। हमें कई देशों के साथ हमारे साथ न्यायपूर्वक व्यवहार के लिए बातचीत करनी है। युद्ध अभ्यास काफी खर्चीले हैं, इनके लिए हम बड़ी धनराशि खर्च करते हैं।

उन्होंने कहा, हम काफी जटिल समझौते से गुजर रहे हैं..मुझे लगता है कि (ऐसे में) युद्धाभ्यास करना अनुचित होगा।

ट्रंप ने कहा कि इस बैठक ने विश्व इतिहास में अपना स्थान दर्ज किया है और जोर देकर कहा कि निरस्त्रीकरण अंतर्राष्ट्रीय और अमेरिकी विशेषज्ञों द्वारा सत्यापित होगा।

दोनों नेता वार्ता को आगे बढ़ाने के लिए सहमत हुए। यह वार्ता विदेश मंत्री माइक पाम्पिओ और उत्तर कोरिया के एक वरिष्ठ अधिकारी के बीच होगी।

ट्रंप ने कहा कि उन्होंने किम को सही समय पर व्हाइट हाउस आने का निमंत्रण दिया है जिसे किम ने स्वीकार कर लिया है।

उन्होंने कहा, किम ने मुझसे कहा कि उत्तर कोरिया एक बड़े मिसाइल इंजन परीक्षण साइट को समाप्त कर रहा है।

दोनों के द्वारा हस्ताक्षरित समझौते में इसका वर्णन नहीं है, लेकिन ट्रंप ने कहा, हमने समझौते पर हस्ताक्षर के बाद इस पर सहमति जताई।

ट्रंप ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि किम हस्ताक्षरित दस्तावेज का अनुसरण करेंगे।

ट्रंप ने किम की कम उम्र में देश को चलाने की क्षमता की सराहना की।

ट्रंप ने कहा, वह काफी प्रतिभावान हैं।

किम के साथ संभावित दूसरी बैठक के बारे में पूछे जाने पर ट्रंप ने कहा कि अभी पहला ठीक से स्थापित नहीं हुआ है। हमें संभवत: एक अन्य सम्मेलन या बैठक की जरूरत होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here