Home राज्य केरला केरल में नहीं रहेगा यूडीएफ का अस्तित्व : माकपा

केरल में नहीं रहेगा यूडीएफ का अस्तित्व : माकपा

तिरुवनंतपुरम,:मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने गुरुवार को कहा कि वह 28 मई को चेंगन्नूर सीट पर होने वाले उप चुनाव में विपक्ष को हरा कर सीट पर फिर से जीत हासिल करेगी। पार्टी ने कहा कि केरल की राजनीति में कांग्रेसनीत यूडीएफ का अस्तित्व नहीं रहेगा।

पार्टी सचिव कोडियारी बालाकृष्णन ने कहा कि माकपा उम्मीदवार चेंगन्नूर उप चुनाव में न सिर्फ सीट पर माकपा का कब्जा बरकरार रखेगा बल्कि भारी अंतर से जीत दर्ज करेगा। उन्होंने कहा कि नतीजों को लेकर उन्हें कोई संदेह नहीं है।

उन्होंने कहा, कांग्रेसनीत युनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट की लोकप्रियता कम हो रही है और हमारा मकसद यह सुनिश्चित करना है कि केरल की राजनीति में वे महत्वहीन हो जाएं।

बालाकृष्णन ने कहा, अगर आप 2016 विधानसभा चुनाव में यूडीएफ के गठन पर ध्यान देंगे तो देखेंगे कि वे पहले से ही गंभीर स्थितियों से जूझ रहे हैं। जैसे कि जनता दल युनाइटेड (जद-यू) द्वारा उनका साथ छोड़ना और हमारे साथ आना। केरल कांग्रस (मणि) अब उनके साथ नहीं है और वह कांग्रेस उम्मीदवार के लिए प्रचार भी नहीं कर रही है।

इस सीट पर उपचुनाव जनवरी माह में माकपा विधायक के.के. रामाचंद्रन के निधन के बाद जरूरी हो गया है।

माकपा ने 2016 में चेंगन्नूर सीट पर जीत हासिल कर कांग्रेस के किले में 25 साल बाद सेंध लगाई थी।

चेंगन्नूर उप चुनाव में माकपा उम्मीदवार के रूप में अलप्पुझ़ा जिला सचिव साजी चेरियान को चुना गया है। पिछले चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

कांग्रेस ने पार्टी नेता डी. विजयकुमार और भाजपा ने पी. एस. श्रीधरन पिल्लई को फिर से मैदान में उतारा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here