Home न्यूज़ बिना जांचे हुए पत्रों पर किसी की गिरफ्तारी नहीं होनी चाहिए :...

बिना जांचे हुए पत्रों पर किसी की गिरफ्तारी नहीं होनी चाहिए : चिदंबरम

नई दिल्ली : पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री व वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने सोमवार को कहा कि सरकार को प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए जरूरी उपाय करने चाहिए, लेकिन बिना जांचे हुए धमकी भरे पत्रों के आधार पर किसी की गिरफ्तारी नहीं होनी चाहिए।

चिदंबरम ने यहां संवाददाताओं से कहा कि एक केंद्रीय मंत्री ने बताया है कि एलगार परिषद के कुछ कार्यकर्ताओं की भीमा-कोरेगांव हिंसा के मामले में गिरफ्तारी हुई है और उनका कहना है कि इन लोगों का माओवादियों से कोई संबंध नहीं है।

पुणे पुलिस ने गुरुवार को अदालत से कहा था कि गिरफ्तार किए गए लोगों में से एक के पास से एक पत्र बरामद किया गया है, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश का जिक्र है।

चिदंबरम केंद्रीय गृहमंत्री भी रह चुके हैं, उन्होंने कहा, मुझे नहीं लगता कि आपको बिना छानबीन के ऐसे पत्रों को भारत का राजपत्र मान लेना चाहिए और उसे आधिाकारिक दस्तावेज के रूप में पेश करना चाहिए।

चिदंबरम ने कहा, सरकार को भारत के प्रधानमंत्री की पूर्ण व त्रुटि रहित सुरक्षा के लिए जो भी उपाय संभव हो, करना चाहिए। मामला प्रधानमंत्री से जुड़े होने के नाते हम सभी लोग इसमें दिलचस्पी रखते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here